HindiBhashi: हिन्दी में SEO और Digital Marketing की पूरी जानकारी

Blogging, SEO, Digital Marketing aur Social Media se related sampurn jankari hindi me jise sikhkar aap Online Work from home se Paise kamaa sakte hai

Krishna

Sunday, March 1, 2020

Blog, Blogger, Blogging क्या है(What is Blog, Blogger, Blogging)

Blog, Blogger, Blogging
क्या आप जानते है blog क्या होता है? अगर नहीं, तो आप सही जगह पर हैं। शुरुआती समय में किसी का अपना  विचार अथवा व्यक्तिगत dairy internet पर सार्वजनिक करने का माध्यम हुआ करता था। यह दौर 1994 का था। इस दरम्यान लोग अपना नित्य का अनुभव और किए गए कार्य साझा करते थे। धीरे - धीरे लोगों को समझ में आया की इस माध्यम का उपयोग दूसरे की जरूरत की जानकारी को भी साझा किया जा सकता है। और इस तरह से ब्लॉग का जन्म हुआ। 

ब्लॉग क्या है(What is ब्लॉग)

Blog की परिभाषा (Definition of ब्लॉग)

ब्लॉग (Weblog) का संक्षिप्त रूप है, जिसका मकसद internet पर वैबसाइट के रूप में कोई भी जानकारी अथवा विचार प्रकट करना होता है। इसपर जो जानकारी प्रकाशित होते हैं वो reverse chronological order में होते हैं, यानि सबसे अंत में प्रकाशित होने वाले post शुरू में दिखाई देते है। इस प्लैटफ़ार्म पर कोई भी लेखक व्यक्तिगत रूप से अथवा सामूहिक रूप से किसी विषय पर अपना विचार रखते हैं 

ब्लॉग बनाने का उदेश्य( What is the purpose of a blog?)

 ब्लॉग लिखने के बहुत से कारण हो सकते हैं  कुछ लोग सौकिया तौर पर ब्लॉगिंग करते हैं तो कुछ अपने व्यवसाय को दुनिया की नजर में लाने के लिए ब्लॉगिंग करते हैं।  आजकल आपको हर तरह की जानकारी जैसे शिक्षा, स्वास्थ, फैशन की जानकारी ब्लॉग अथवा website पर मिल जाएगी। जब हम कोई business से संबन्धित ब्लॉग बनाकर दुनिया की नजर में लाते हैं तो निश्चित रूप से हमारे व्यापार में वृद्धि होती है, परिणाम स्वरूप हमारे आय में वृद्धि होती है। हमारे ब्लॉग का जितना अच्छा rank होगा उतना ज्यादा लोग इस जानकारी को देख पाते हैं।  

अगर हमारा कोई व्यापार है तो कोशिश करते हैं कि ज्यादा से ज्यादा वस्तु को बेचा जा सके, अगर हमने कोई नया व्यापार शुरू किया है तो blog के माध्यम से ज्यादा से ज्यादा लोगों तक अपने वस्तु अथवा सेवा कि जानकारी लोगों तक पाहुचते हैं।  

इस तरह हम कह सकते है कि ब्लॉग का मुख्य उदेश्य जल्द से जल्द अधिक से अधिक लोगो तक अपनी बात अथवा वस्तु को पहुंचाकर अधिक से अधिक आय अर्जित करना है। 

ब्लॉग पर जितना अच्छा समीग्री (Content Management ) रहेगा उतना ज्यादा traffic बढ़ेगा, इसके लिए जरूरी है कि हम ब्लॉग का CMS सही से करें तथा SEO पर खास ध्यान दें। ब्लॉग पर traffic बढ़ाने के बाद जरूरी हो जाता है कि हम blog पर visitor को बार-बार आने के लिए लिए मजबूर करे, ये तभी संभव है जब हमारा product और presentation अच्छा होगा। 

जब हम किसी सेवा अथवा जानकारी के लिये ब्लॉग बनाते हैं तो पढ़ने वाले में विश्वास पैदा करना होता है। एक आकर्षक ब्लॉग लोगों को लंबे समय तक अपने साथ बांधकर रखता है। हम जो काम कर रहे हैं वो अगर नया है तो और जरूरी हो जाता है कि हमारा presentation अच्छा हो। 

ब्लॉग का खाका(Blog structure)

ब्लॉग का structure समय दर समय बदलता रहता है। आजकल के ब्लॉग में जानकारी के अलावे भी बहुत सारी चिजे शामिल होती है। इस सबके बावजूद ब्लॉग का अपना एक standard और feature है जो ज़्यादातर ब्लॉग मे पाये जाते है-

  • Header with menu or navigation list
  • Main content area with highlighted or latest blog posts 
  • Sidebar with social profiles, favorite contents, or call-to-action 
  • Footer with relevant links like a disclaimer, privacy policy, contact page, etc.


Basic blog structure

ऊपर दिया गया चित्र ब्लॉग का एक basic structure है, हर हिस्से का अपना महत्व है और पढ़ने वाले को एक पोस्ट से दूसरे तक जाने में सहायता करता है। 

Blog और Website

ज़्यादातर लोंगों के दिमाग में एक बात हमेशा चलती रहती है कि blog और website में क्या अंतर है? आज के दौर में blog और website में अंतर करना बहुत ही कठिन काम है। बहुत सारी कंपनियाँ अपने ब्लॉग को ही website के रूप में प्रयोग करती है। 

क्या तथ्य है जो ब्लॉग को वैबसाइट से अलग करती है?

वास्तबिक रूप में एक ब्लॉग को समय - समय पर update करने कि जरूरत होती है। 

ब्लॉग readers को अपने साथ जोड़कर रखता है। Readers को ब्लॉग पर अपनी बात कहने का मौका होता है ताकी उसका विचार दूसरों तक पहुचे। दूसरी तरफ website पर readers के लिए इस तरह की सुविधा नहीं होती। website static (one way traffic) की तरह होता है, जहां वैबसाइट honor केवल अपने product ko लोगों के सामने परोसकर छोड़ देते हैं। काफी लंबे वक्त तक update करने की जरूरत नहीं समझते हैं,वहीं blog पर समय-समय पर नए- नए पोस्ट publish होते रहते हैं।  

मुख्य बाते जो ब्लॉग को website से अलग करती है- post date, लेखक का परिचय, डेटेगरी, लेबेल ये सब बाते ब्लॉग में पायी जाती है जबकि वैबसाइट में ये सब बातें नहीं होती। अगर readers के views से देखें तो उनके लिए website पर नया कुछ नहीं होता, जबकि ब्लॉग पर उनको daily, weekly, monthly, ब्लॉगर के schedule के अनुसार नए -नए content मिलते रहते है। 

ब्लॉगिंग क्या है(What is blogging?)

2000 के दशक में अलग-अलग विषयों पर लोगों ने ब्लॉग लिखना शुरू किया। सन 2020 तक अकेले अमरीका में 31.7 मिलियन लोगों ने ब्लॉग लिखना शुरू कर दिया था। हालाकी हिन्दी ब्लॉग अभी शुरुआती अवस्था में है, लेकिन हिंदीभाषी जनसंख्या के हिसाब से आनेवाले वक्त में इसका भविष्य उज्ज्वल है।  

ब्लॉगिंग की परिभाषा (Definition of ब्लॉगिंग)

"ब्लॉगिंग ब्लॉग लिखने की कला है। "  ब्लॉगिंग करना बहुत सारे गुणों का समूह है। ब्लॉग लिखने वाले को एकसाथ कई काम करना पड़ता है। ब्लॉगिंग में सबसे जरूरी है लिखने की कला होनी चाहिए, इसके अलावा, posting linking, sharing जैसे काम साथ-साथ करना पड़ता है जिससे ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पोस्ट की पाहुच बढ़ सके। 

ब्लॉगिंग इतना पोपुलर क्यों है(Why is blogging so popular?)

 यहाँ ये बताना जरूरी है कि बितते समय के साथ ब्लॉगिंग कि popularity बढ़ती ही जा रही है। अब प्रश्न उठता है "ब्लॉगिंग इतना popular क्यों होता जा रहा है?" इसके कुछ मुख्य बिन्दुओ पर ध्यान देना होगा। 

शुरुआती वक्त में यह लोगों तक अपनी बात पहुचाने जा जरिया मात्र था, लेकिन समय के साथ इसमें बदलाव आते गए और लोंगों ने इसके नये-नये फायदे ढूंढ लिये। 

Blogging benefit
हर business का मुख्य उद्धेश्य होता है अपने ग्राहक को संतुस्ट रखना।  ब्लॉग के माध्यम से सेवाएँ देने वाले अपने ग्राहक को हमेशा नये - नये जानकारी देते रहते हैं। इससे लोगों का रुझान हमारी तरफ बढ़ता है, जिसका परिणाम होता है कि लोगों का विश्वास हमारी उत्पाद के प्रति बढ़ जाता है। 

व्यक्तिगत अथवा किसी एक विषय पर लिखा गया ब्लॉग संबन्धित लोंगों को अपनी ओर आकर्षित करता है। ब्लॉग पर reader अपना comment देकर आपसे जुडते हैं, अथवा आपके product के गुण-अवगुण को बतलाते हैं, जिससे आपको अपने product में सुधार का मौका मिलता है। इस तरह आपकी पहुँच धीरे-धीरे बढ़ती चली जाती है। 

क्या आप जानते हैं कि आप ब्लॉग से पैसे भी कमा सकते है? जब एकबार आपके ब्लॉग पर अच्छा-खासा ट्रेफिक आना शुरू हो जाता है, और लोगों का विश्वास आपके प्रति बढ़ता जाता है फिर आप उनके सामेन अपनी सेवा अथवा वस्तु जो आप बेचते हैं, प्रस्तुत कर पैसे कमा सकते हैं। 

ब्लॉगर किसे कहते है(Who is Blogger)

 कई सारे कारण हैं कि ब्लॉगर कि लोकप्रियता आजकल बढ़ती ही जा रही है, जिसमें एक मुख्य कारण है ब्लॉगिंग का career के विकल्प के तौर पर उभरना। चुकी इसमें हमें किसी company से बंधकर नहीं रहना पड़ता, अपनी सुविधा अनूसार समय का चुनाव कर internet पर ब्लॉग बनाकर अपने विचार व्यक्त करते हैं। यही कारण है कि ज्यादा से ज्यादा लोंगों का रुझान इस तरफ बढ़ रहा है। तो फिर ब्लॉगर किसे कहेंगे? वो व्यक्ति जो ब्लॉग के माध्यम से अपना विचार लोंगों तक पहुंचाता है अथवा कोई अन्य जैसे- शिक्षा, स्वास्थ, योगा, फैशन, टेक्नोलोगी आदि कि जानकारी साझा करता है। ब्लॉगिंग एक चलता-फिरता काम है, इसमें एक जगह रुककर काम करने कि जरूरत नहीं है। बस internet से जुड़े रहने कि आवश्यकता होती है। 

ब्लॉगर की परिभाषा (Definition of Blogger)

एक ब्लॉगर वह व्यक्ति है जो एक ब्लॉग बनाकर उसको कंट्रोल करता है। वह अलग -अलग विषयो पर पोस्ट लिखकर, संबन्धित लोगों को तक पहुंचाता है। 

आजकल ज्यादा लोग ब्लॉगिंग के क्षेत्र में क्यों आ रहे है(Why are many people blogging today?)

क्या आप भी चाहेंगे आपका अपना एक ब्लॉग हो? हर इंसान के पास कुछ न कुछ कहने के लिये है। बहुत सारे लोग आजकल अपना अलग-अलग ब्लॉग बना रहे हैं, जिनका अलग-अलग उद्देशय होता है। इंटरनेट के माध्यम से आप अधिक से अधिक लोगों तक अपनी बात पहुंचा सकते हैं। 

ब्लोगिंग इतना लोकप्रिय क्यों है? ब्लॉग पर आप किसी भी तरह के विचार, कैसे भी पोस्ट कर सकते है। आपको कोई रोकने वाला नहीं है। कोई अपने ब्लॉग पर सरकार की नीतियों की समीक्षा करता है, कोई पर्यावरण पर लिखता है तो कोई मानव अधिकार की बात करता है, निर्भर करता है कि  आपका झुकाव किस विषय पर ज्यादा है, उस विषय पर आप भी ब्लॉग बनाकर लिख सकते है, फिर एक समय आएगा जब आप भी best blogger की श्रेणी में आ जाय। 

ये भी पढ़ें 

क्या ब्लॉगर पैसे कमाते है(Are blogger getting paid?)

यह सबसे मारक प्रश्न है कि क्या ब्लॉगर, ब्लॉग से पैसे भी कमाते हैं या केवल time pass करते हैं? 

ब्लॉगर निश्चित रूप से ब्लॉग से पैसे कमाते हैं लेकिन ब्लॉगिंग ऐसा काम नहीं है कि आपने आज से ब्लॉगिंग शुरू कि और कल से पैसे आना शुरू। ब्लॉग पर पैसे के बारे में सोचने से पहले जरूरी है कि हम एक सुंदर ब्लॉग बनाए और उसपर अच्छे- अच्छे पोस्ट डाले। ट्राफिक बढ़ाने के लिये ब्लॉग का सही से SEO करे, Content management अच्छा हो, लोगों का विश्वास हमारे ऊपर बने, और इन सब बातों में समय लगता है। वैसे भी हम हिन्दुस्तानी अमेरिका से तो तुलना कर नहीं सकते। कहते है मेहनत का फल मीठा होता है। अपने यहाँ कहावत है "काम करो, फल कि इच्छा मत करो" । मै ऐसा नहीं कहूँगा कि फल कि इच्छा न करे, लेकिन अच्छी तरह मेहनत करेंगे, धैर्य रहेंगे तो फल भी मिलेगा।

एक अच्छा ब्लॉगर बनकर, ब्लॉग पर आप किस-किस तरह से पैसे कमा सकते हैं - 

  • व्यक्तिगत रूप से किसी कंपनी का विज्ञापन अपने ब्लॉग पर देकर अथवा google adsense के माध्यम से 
  • Ad network के माध्यम से affiliate partner बनकर 
  • अपना digital प्रॉडक्ट जैसे ebook और tutorial बेचकर 
  • कोई exclusive content या सलाहकार के रूप में membership बेचकर 
  • अपने ब्लॉग का उपयोग अपने बिज़नस को प्रचार का माध्यम बनाकर 
 अगर अपना ब्लॉग अपने किसी business को प्रचार करने अथवा उसे बढ़ाने के मकसद से शुरू करते हैं फिर उसपर किसी दूसरे का समान बेचना अथवा दूसरे का प्रचार करना उचित नहीं होगा। हाँ आप उसपर ebook, guides, या कोई online course डालकर ग्राहको कि संख्या बढ़ा सकते है। 

आप अपना ब्लॉग बनाना चाहते है(Want to start your own blog?)

 जब हमने इतनी सारी बातें कर ली तो सवाल उठता है क्या आप अपना ब्लॉग बनाना चाहते है? अगर हाँ तो कैसे? कौन सा platform चुने? Blogger या Wordpress? 

मेरा जो व्यक्तिगत अनुभव है, हिन्दी ब्लॉग पर पैसे आने में वक्त लगता है। हम हिन्दुस्तानी अमेरिकन कि तरह पैसे वाले भी नहीं है कि बिना सोचे- समझे पैसे खर्च करते चले जाये। शुरुआती समय में कुछ वक्त सीखने- समझने में निकाल जाता है। जबतक हम कुछ पोस्ट डालते है और ट्रेफिक आने लगता है, तबतक साल निकल जाता है। उस वक्त तक हमारे हाथ एक भी पैसा नहीं आता है, परिणाम होता है हम सोचना शुरू करते है कि हमारा लगाया हुआ पैसा डूब गया। 

इसका बेहतर उपाय ये है कि शुरू में हम Wordpress (जिसमें पैसे लगाने होते है) न चुनकर, Blogger को चुने। Blogger पर हमे कोई पैसा नहीं खर्च करना पड़ता तथा ब्लॉगिंग करना बहुत आसान है, जहां कोई भी ब्लॉगिंग कर सकता है। हाँ सुविधाएं सीमित है, लेकिन इतनी सुविधाएं है कि हमारा शुरुआती काम निकल जाता है। एकबार जब ब्लॉग जम जाय, traffic बढ़ जाय, उसके बाद Blogger से Wordpress पर जाना कोई भारी काम नहीं है। 

ब्लॉगर पर ब्लॉग कैसे शुरू करे(How to start blogging on Blogger?)

ब्लॉगर पर ब्लॉग बनाना बहुत ही आसान काम है। आपको केवल एक gmail पर Email account कि आवश्यकता होती है। नीचे Blogger पर ब्लॉग बनाने का stepwise विवरण दिया गया है-

Step one - browser में blogger॰com लिखकर enter का बटन दबाएँ 

Step two- sign in पर click करे 

Step three- अपना Email और password डालकर enter दबाये 

आपके सामने blogger का dashboard खुल जाएगा। New post पर पोस्ट लिखे, publish बटन दबाकर पोस्ट को publish कर दें। फ्री में ब्लॉग कैसे बनाए जानने के लिये जरूर पढ़ें   Bloger पर फ्री में ब्लॉग कैसे बनाए step by step guide

निष्कर्ष (Conclusion)

आशा करता हूँ कि आपने अपना महत्वपूर्ण समय देकर तसल्ली के साथ इस पोस्ट को पढ़ा है तो आपने जरूर कुछ सीखा होगा। अगर आप अपना ब्लॉग बनाना चाहते तो सबसे पहले अच्छे content पर काम शुरू कर दे। अगर आपको मेरा पोस्ट अच्छा लगा हो तो एक comment जरूर डाले और दोस्तों को share करें  

What-is-a-Blog infographic उदाहरण

 


1 comment:

  1. काफी आसान शब्दों में समझाया गया है।
    धयनवाद sir

    ReplyDelete