HindiBhashi: हिन्दी में SEO और Digital Marketing की पूरी जानकारी

Blogging, SEO, Digital Marketing aur Social Media se related sampurn jankari hindi me jise sikhkar aap Online Work from home se Paise kamaa sakte hai

Krishna

Friday, March 27, 2020

keyword density kya hota hai in hindi

Keyword Density या Keyword Stuffing क्या है, SEO में इसका महत्व 

Keywords Stufffing image

अभी तक आप इतना तो समझ गए होंगे की अपने ब्लॉग के लिए जब कोई नया post लिखते है तो एक keyword target करते है। जिसके लिए हम keyword research करते है। 

Anchor Text क्या है और इसका महत्व

SEO Friendly Blog Post लिखना क्यो जरूरी है

एकबार जब हमारा keyword final हो जाता है फिर हम उसपर post लिखना शुरू करते है साथ में keyword का प्रयोग करते जाते है। 

पोस्ट लिखते हुए हमारा प्रयाश होता है कि उसको इस तरह SEO करे ताकि search engine में अच्छे से page rank कर सके। इसके लिए हम तरह- तरह के उपाय करते है। हम On-page, Off-page SEO Link Building करते है। इसी On- Page SEO  का एक अहम और शुरूआती हिस्सा है keyword का सही से prayog. 

आम तौरपर keyword  प्रयोग का जो सही स्थान है वो इस प्रकार है-

  • Page title
  • Heading
  • Alt Text 
  • Sub Heading
  • First Paragraph
  • Minor Heading 
  • Post Body
  • Permalink
  • Description
  • Conclusion 

Keywords  का पूरे post में कितनी बार प्रयोग कर सकते है इसके लिए गूगल का अपना एक मापदंड है। अक्सर नए blogger उस मापदंड को follow नहीं करते और जहां-तहां keyword का प्रयोग कर देते है ताकि post जल्द से जल्द rank कर सके। Google इसको Keyword stuffing के रूप में देखता है जो कि आपके blog के लिए बिलकुल सही नहीं। ये एक छोटी सी गलती बहुत भारी पर जाता है। 

अपने post के लिए सही से SEO करना आसान काम नहीं है। Search engine का algorithm में हमेशा कुछ न कुछ परिवर्तन आता रहता है। SEO के लिए बहुत दक्षता की जरूरत होती है। 

तो हम इस post में इसी बात पर चर्चा करेंगे की पोस्ट में keyword का कितनी बार और कैसे प्रयोग किया जाय । 

Keyword Density क्या है 

किसी भी post में टोटल शब्द कितने है और उसमें कितने बार keyword का प्रयोग किया गया है। मान लीजिये कोई पोस्ट 1000 शब्द का है और इसमे कुल बीस बार keyword का प्रयोग किया गया है, यानि 100 शब्द पर दो बार। इसका मतलब हुआ पूरे पोस्ट में 2% keyword का प्रयोग हुआ है। इसमें एक ध्यान देने वाली बात और है कि keyword के साथ मिलते-जुलते common word तथा phrase भी जोड़े जाते है। 

फार्मूला से इसको इस प्रकार समझ सकते है

keyword density formula

Keyword Density क्या होना चाहिए 

आम तौर पड़ 1 से 3% की density को बेस्ट माना जाता है। density को 1% से कम रखकर भी पगे को रंक कराया जा सकता है। अगर हम किसी भी कारणवश keyword density 3% से ऊपर रखते है Google की तरफ से penalty की संभावना बढ़ जाती है। इसलिए ऐसा हरगिज न करे। 

keyword को ज्यादा इस्तेमाल करने से बेहतर है phrase का इस्तेमाल ज्यादा से ज्यादा करे। लेकिन इस बात का ध्यान रखना है की phrase का रूप पोस्ट से मिलता - जुलता होना चाहिए। ऐसा न कि पढ़ने वाले को भी अटपटा लगे और search engine का crawler भी कन्फ्युज हो जाए। 

Long Tail keyword का इस्तेमाल करे

Page को rank करने के लिए Long Tail Keyword एक बेहतर टूल है। जब हम keyword के लिए एक से तीन word का इस्तेमाल करते है तो वो शॉर्ट tail keyword है, लेकिन उससे ज्यादा शब्द एक sentence के रूप में इस्तेमाल करते है तो वो Long Tail keyword कहलाता है। 

मान ले मुझे अपने लिए एक formal shoes लेना है, 

यहाँ "Men shoes" एक short tail keyword है जबकि 
"Men formal shoes store near me" एक Long tail keyword है। 

दुनिया मे 70% search long tail keyword से होते है। 

long tail keyword search result  
इसलिए ये मैने नहीं रखता कि keyword कितना बार use कर रहा है, मायने रखता है आपका post का content कितना अच्छा है और आप long tail keyword कितना अच्छा तलाश करते है। 

LSI Keyword का महत्व 

अगर आप स्मार्ट तरीके से अपने post को ओपतीमिजे करना चाहते है तो LSI (Latent Semantic Indexing) का प्रयोग करे। ऐसा keyword जो आपके main keyword से मिलता-जुलता हो। 

अगर आप meaningful मिलते-जुलते keyword का प्रयोग करते है गूगल इसको खास अहमियत देता है। LSI keyword आपको search result के नीचे दिखाई देता है। उदाहरण के लिए - 

LSI Keyword

 Keyword Density Checker Tool 

अब ये तो संभव नहीं की आप पोस्ट के एक- एक word को गिने, फिर keyword गिने और परसेंट निकाले। इसके लिए बहुत सारे tool है जिसका इस्तेमाल आप जरूरत के हिसाब से कर सकते है। वैसे सच कहूँ तो हिन्दी ब्लॉग में अभी content का अभाव है इसलिए इन tool की इतनी जरूरत है नहीं। वैसे नीचे कुछ tool नाम दिया है, आप चाहे तो प्रयोग कर सकते है :

  • Free keyword density analyzer tool by SEO book
  • Small SEO Tools keyword density checker
  • Keyword Analyzer tool
  • WordPress SEO by Yoast (a must have plugin for on-page SEO as well as for optimization)

Keyword Research के लिए Tool 

मार्केट में बहुत सारे free और paid tool उपलब्ध है जिसकी सहायता से आप keyword research कर सकते है, कुछ के नाम नीचे दिये गए है: 


  • SEMrush: ये एक paid tool है, काफी famous है। 
  • Ubersugges: free tool है, use मै भी आसान है । 
  • Ahrefs: ये भी एक paid tool है और famous है ।
  • Serpsta: Paid tool है लेकिन औरों की अपेक्षा सस्ता है। 
  • Google Keyword Planner: Free और सबसे बढ़िया। google का अपना product है। 

निष्कर्ष 

इस फेर में ज्यादा न परे की post में कितनी बार या कितना percent keyword का प्रयोग करे। अच्छा content लिखे, proper जगह पर keyword का प्रयोग करे। LSI का प्रयोग करे। अच्छा से अच्छा Long tail  Keyword  का प्रयोग करे। इस बात पे focus रखे कि रीडर्स क्या चाहता है।

आशा है पोस्ट आपको अच्छा लगा होगा, एक comment जरूर करे। अपने दोस्तों को share करे। ताकि वो भी इससे लाभ उठा सकें ।   

No comments:

Post a Comment