HindiBhashi: हिन्दी में SEO और Digital Marketing की पूरी जानकारी

Blogging, SEO, Digital Marketing aur Social Media se related sampurn jankari hindi me jise sikhkar aap Online Work from home se Paise kamaa sakte hai

Krishna

Friday, March 27, 2020

keyword kya hai seo ke liye kyo jaruri hai

Keyword क्या होता है SEO में क्या महत्व है 

Keywords के faayde

Keyword शब्द जैसा सुनने में ही लगता है बहुत ही basic शब्द है। अगर आप इन शब्द को तोड़कर अलग- अलग करेंगे तो और भी आसान हो जाएगा। Key का अर्थ होता है चाबी, और word का शब्द। तो मोटेतौर पर इसका अर्थ निकलता है किसी भी पोस्ट की चाभी। जिसपे किसी पोस्ट का पूरा भविष्य टीका हो। 

 ये keyword सुनने में जितना आसान लगता है वाकई में blogging के लिए उतना  आसान है नहीं। कई blogger blog पर हर तरह से मेहनत करते है लेकिन अगर keyword पर ध्यान नहीं देते तो कुछ दिनों में घर बैठ जाते है। Blogging terms को समझने-सीखने के क्रम में कई शब्द के concept को आपने समझा। अब समझते है Keyword क्या है?

Backlink क्या है और ये क्यों जरूरी है

Single Niche Vs Multi Niche ब्लॉग क्या है

Keyword क्या होता है (What is Keyword in Hindi)

आम तौरपड़ keyword का शाब्दिक अर्थ तो आप समझ ही गए है। अब सवाल उठता है blogging concept में इसका क्या अर्थ है। Keyword किसी भी post का वो focus word है जिसको आधार बनाकर वो पोस्ट लिखा गया है यानि जिस word को google search में लिखने से वो पोस्ट दिखाई देगा। 

आप इतना तो जानते होंगे आप एक blog बनाकर सैकड़ो post उसपे लिखते है। किसके लिए? यही सोचकर न की कोई इसको अपने जरूरत के हिसाब से पढ़ेगा। पढ़ेगा, यहाँ तक तो ठीक है लेकिन आपके पोस्ट तक पहुचेगा कैसे? क्या domain name याद करके, लाखों- sites है कितने को याद करेगा। इसका सीधा सा जबाब है, जब किसी reader को किसी विषय की जानकारी चाहिए तो उस विषय से संबन्धित शब्द या प्रश्न सर्च ingine में लिखता है। यही लिखा जानेवाला word keyword है। 

उदाहरण के लिए मान ले आपको आपको blogging सीखने के क्रम में keyword के कान्सैप्ट को समझना है। आप गूगल सर्च में क्या लिखेंगे- keyword क्या है, keyword क्या होता है, keyword research कैसे करे इत्यादि। ये तीनों ब्लॉगिंग की भाषा में keyword है। 

 Keyword कितने प्रकार के होते है (Types of Keyword)

अब जब ये इतना महत्वपूर्ण term blogging के लिए है तो स्वाभाविक इसके भी कई भेद होंगे। देखते है इसके कितने भेद या type होते है। 

Short Tail Keyword 

जब हम कुछ ढूँढने के लिए Google में कुछ लिखते है तो कुछ शब्द का इस्तेमाल करते है। वो शब्द एक से लेकर अनेक हो सकता है। जैसे- keyword क्या है, men shoes. यहाँ मैंने दो keyword लिखा है। पहले में तीन शब्द है दूसरे में दो शब्द। ये दोनों एसएचआरटी टाइल keyword है। ये कम महत्वपूर्ण होता है और इसमें काफी competition होते है। इसको समझने के लिए आपको पढ़ना चाहिए Keyword Research कैसे करे। 
मोटे तौर पर ये समझे की एक से तीन शब्द तक के keyword को short tail keyword कहते है । 

Long Tail Keyword 

longtail keywords

 जैसा नाम से ही पता चलता है जब हम कुछ सर्च करने के लिए तीन से ज्यादा शब्दों का इस्तेमाल करते है अथवा प्रश्न को phrase के रूप में लिखते है तो उसे Long Tail Keyword कहते है। जैसे- blogging के लिए keyword research कैसे करे। 

Blogging के लिए SEO में इसका खाश महत्व है। Keyword की लंबाई जितनी ज्यादा होगी competition उतना कम होता जाएगा। 

मान ले आपको अपने लिए office purpose के लिए shoes चाहिए। आप सर्च engine में कितने तरह से लिख सकते है-
shoes
men shoes
men formal shoes
men formal shoes store near me 

अब इस सारे keyword को एक-एक कर समझे। 

सबसे पहले आप लिखते है "shoes", परिणाम लाखों result आपके सामने, mens shoes, ladies shoes, baby shoes, न जाने क्या - क्या आप भटक जाएंगे, शायद ही आपको काम का कोई site दिखाई दे। 

दूसरी बार आप लिखते है "men shoes", परिणाम स्वरूप इस बार आपको केवल men से related result दिखाई देगा और result की संख्या भी कम हो जाएगी। इसमे आपको formal casual शूज के साथ हो सकता है आपके लिए हवाई चप्पल भी दिखाई दे दे।

तीसरा keyword आपने लिखा "men formal shoes" इसबार क्या होगा, search result और कम हो जाएगा। men shoes से संबन्धित सबकुछ न दिखाकर केवल formal shoes का result दिखाई देगा, जो आपकी जरूरत है। लेकिन यहाँ एक समस्या अभी भी है। ये पूरे शहर का या यो कहें की कुछ शहर से बाहर का रिज़ल्ट दे देगा। 

अब चलते है चौथे keyword पर। जब आप लिखते है 'men formal shoes store near me'. यहाँ आपको कुछ selected result दिखाई देता है जो आपके काम का है। 

ये एक उदाहरण मात्र था। ये देखने में बड़ा ही आसान लग रहा होगा। इस concept को समझने के लिए बहुत research की जरूरत पड़ती है। आप अपने post में जितना अच्छा long tail keyword का प्रयोग करते है आपके post का page rank उतना अच्छा होता है। 

LSI Keywords 

keywords density

LSI का पूरा नाम है Latent Semantic Indexing. किसी भी पोस्ट के साथ हम keyword का इस्तेमाल दो तरीके से करते है। पहला पहले एक पोस्ट लिखते है, फिर उसके के लिए दो-चार keyword रिसर्च कर पोस्ट में जोड़ते है। दूसरा पहले एक keyword रिसर्च करते है फिर उसपर post लिखते है। Google algorithm  के instruction को follow करे तो एक post के साथ एक keyword होना चाहिए। हम blogger कई बार अच्छे page ranking के लिए एक keyword के साथ मिलता-जुलता दो-चार और keyword post में शामिल कर देते है। एक तरह से google को बेवकूफ बनाते है। 

LSI एक method है, जिसके जरिये search engine keyword और post के बीच relation को define करता है। ये इस बात का तलाश करता है कि आपने पोस्ट में keyword से मिलते-जुलते कितने keyword का इस्तेमाल किया है। Google bots हर common words और phrase को keyword के तौर पर लेता है। एक लिमिट से ज्यादा बार keyword इस्तेमाल करने पर गूगल post को penalties कर देता है। इसलिए keyword इस्तेमाल करने में खास ध्यान रखने कि जरूरत होती है। 

Keyword Density क्या है 

Density का अर्थ घनत्व होता है। ` आप post में keyword या उससे मिलते - जुलते word  का कितनी बार इस्तेमाल करते है। आप अगर ये सोच रहे है कि मेरा post है, चाहे मै जितनी बार इस्तेमाल करूँ, जैसे मर्जी लिखू तो गलत है। मोटे तौर पर एक पोस्ट में keyword का इस्तेमाल 2से 3% से ज्यादा नहीं होना चाहिए। इससे ज्यादा होने पर keyword stuffing के श्रेणी मे आ जाता है जो आपके post के लिए हानिकारक है। keyword density भी एक विस्तृत विषय है इसको सही से समझने के लिए Keywords Density का महत्व क्या है  को जरूर पढे। 

Keyword का प्रयोग कैसे करे 

keyword क्या है,  आपने समझ लिया। अपने पोस्ट के लिए कौन सा keyword प्रयोग करना है ये भी आपने फ़ाइनल कर लिया। तो ये भी समझना जरूरी है कि keywords का प्रयोग कहाँ और कैसे करना है। 

अभी तक का research और बड़े-बड़े blogger के विचार है, उसके हिसाब से सबसे पहले तो blog title में keyword का इस्तेमाल करना चाहिए। उसके बाद post heading(H1) में थोड़ा change करके, यानि long tail keyword में एक-दो word बदलकर। पहले पैराग्राफ के अंदर। 

इसके अलावा heading 2 और heading 3 यानि sub heading और minor heading के अंदर। अंत में conclusion में। 

इसके अलावा कुछ common words जो keywords से मिलते-जुलते है, bold, italic, underscore के रूप में post के बीच-बीच में एक limit के अंडर प्रयोग कर सकते है।Search engine का crawler bold, italic और underscore को भी keyword के रूप में ही count करता है। 

सम्पूर्ण जानकारी के लिए Keyword का प्रयोग कैसे करे जरूर पढे। 


SEO में Keywords के फायदे 

इतना सबकुछ keywords के बारे में समझने के बाद कि Keywords क्या है, Keywords कितने प्रकार के होते है, Keywords कैसे इस्तेमाल करे अब ये समझना जरूरी है कि SEO में keyword का क्या महत्व है? दूसरी भाषा में कह सकते है keywords क्यो जरूरी है?

थोड़ा- बहुत तो समझ चुके होंगे, अब जरा विस्तार से समझने कि कोशिश करते है। आप कोई भी पोस्ट क्यों लिखते है? लोगों को पढ़ने के लिए। लोग आपके पोस्ट तक कैसे पहुंचेंगे Google में search करके। Google search में आपका post first या second page पर कैसे आएगा, जब आप सही से पोस्ट का SEO करेंगे। उसी SEO में On-Page SEO का अहम part है keyword। 

SEO जिसका full form है Search Engine Optimization. Search engine google का प्रोग्राम है optimization यानि post को अनुकूल आप बनाते है। आप post को सर्च engine के हिसाब से जितना optimize करेंगे SERP यानि search engine result page में उतना बेहतर result देगा। 

मान लीजिये आपने कोई एक पोस्ट लिखा, लेकिन किसी भी प्रकार का कोई keyword target नहीं किया न ही किसी किसी keyword के हिसाब से पोस्ट लिखा। बस लिखा और blog पर पब्लिश कर दिया। अब आप ही बताए किस keyword पर google का crawler आपके post को search करेगा। 

Search Engine का crawler एक algorithm के तहत किसी भी पोस्ट को page rank देता है। उस algorithm के दो सौ से ऊपर terms है। हर terms को आप follow नहीं कर सकते, लेकिन कुछ basic terms है, जिसको आप इग्नोर नहीं कर सकते। उसी basic terms में से एक है target keyword का बेहतर प्रयोग। एक अच्छे keyword के बिना सारा-का-सारा मेहनत बेकार चला जाता है। 

निष्कर्ष

अगर आप ब्लॉगिंग के क्षेत्र में career बनाना चाहते है तो keyword के terms को सही से समझे, research करे और उसके हिसाब से पोस्ट लिखे। ज्यादा से ज्यादा long tail keyword को समझने कि कोशिश करे। आप जिस विषय पर लिखना चाहते है, आप विचार करे जब आप खुद उस विषय को internet पर खोजेंगे तो क्या लिखेंगे।

आशा है ये पोस्ट आपको पसंद आया होगा, किसी भी तरह की जानकारी के लिए कमेंट बॉक्स में लिखे। अपने दोस्तों को share करें ताकि वो भी इसका ले सके । 

 

1 comment: