HindiBhashi: हिन्दी में SEO और Digital Marketing की पूरी जानकारी

Blogging, SEO, Digital Marketing aur Social Media se related sampurn jankari hindi me jise sikhkar aap Online Work from home se Paise kamaa sakte hai

Krishna

Sunday, April 12, 2020

blogger blog me 6 post setting

Blogger Blogspot में Post Setting कैसे करे, SEO के लिए पोस्ट सेटिंग     


blogger ke 6 post setting

अभी तक आप ये जान चुके है कि blogger पर free में blog कैसे बनाते है। कोई भी नया post लिखने से पहले क्या - क्या setting करना करना पड़ता है। लेकिन बात यही खत्म नहीं हो जाती। पोस्ट लिखने से पहले जैसे आपने कुछ setting किया हैवैसे ही Post लिखने के बाद कुछ setting करना बहुत ही जरूरी है। इसको एक तरह से SEO का हिस्सा मान सकते है। आपको पता है blog मे SEO क्या है और कैसे करते है 

Backlink क्या है और SEO में इसका क्या महत्व है

Post लिखने से पहले आपने जितनी setting कि है वो सब आपको blogger dashboard के left hand पर दिखता है। अभी हम जिस setting के बारे में जानेंगे वो dashboard के right hand मे दिखता है

Blogger me 6 Post Setting 

  1. Labels
  2. Schedule
  3. Permalink
  4. Location
  5. Search Description 
  6. Options 
post setting

1. Labels : 

Labels का मतलब होता है पोस्ट की श्रेणी। जब आप अपने blog पर post लिखते है तो जरूरी नहीं की वो सब एक ही श्रेणी के हो, ऐसे में जजरूरी हो जाता है कि हम अपने post में श्रेणी लगाए। ऐसा करने से search इंजिन का crawler जब आपके पोस्ट तक पहुंचता है तो उसे labels कि सहायता से आसानी से पता चल जाता है कि आपका पोस्ट किस विषय से संबन्धित है। 

मान लें आप फ़िटनेस पर दो ब्लॉग लिखते हैं, एक प्राणायाम करने के तरीके और दूसरा नित्य योगा। अब पहले वाला प्राणायाम का Labels डालेंगे प्रणायाम, स्वास्थ और नित्य कर्म। इसी तरह दूसरे पोस्ट योगा का Labels डालेंगे योगा, स्वास्थ, निरोगी काया 

सवाल एक और उठता है एक पोस्ट के लिए कितने labels का प्रयोग कर सकते है । वैसे ब्लॉगर की तरफ से 19 labels allowed है, लेकिन 3 से 5 labels एक ब्लॉग के लिए प्रयोग करना बेहतर है। ज्यादा labels डालने से गूगल और readers दोनों confuse हो जाते है। Labels तर्कपूर्ण होना चाहिए। 

जहां ब्लॉगर में कैटेगरी के लिए केवल एक option Labels उपलब्ध है वही wordpress में कैटेगरी और sub category दो option उपलब्ध है। 

Labels setting

Labels डालने के लिए post लिखने के बाद post के right top corner में labels पर क्लिक करें जैसा इमेज में दिखाया गया है। एक box खुलेगा, उसमें labels का नाम लिखें। दो labels के बीच comma का प्रयोग करे, Done button पर क्लिक कर दें। विस्तृत जानकारी के लिए जरूर पढे : 
Lable क्या है और इसकी setting कैसे करे 


2. Schedule : 

Labels के नीचे  दूसरा option है schedule, 

प्रयोग कलेंडर के आधार पर होता है। जरूरी नहीं की जब आप पोस्ट लिखे उसी वक्त post को publish भी कर दे। दुनियाँ के बड़े-बड़े ब्लॉगर के अनुसार post करने का सही दिन Monday, Wednesday, Saturday और Sunday है, इसी तरह मान लें आप दीपावली पर्व पर एक पोस्ट लिखते है, इसको आप होली पर तो publish करेंगे नहीं। 


schedule setting


अगर आप पोस्ट लिखने के साथ पब्लिश कर देते है तो ठीक है अन्यथा schedule पर click करे, फिर date और time पर क्लिक करें, कलेंडर खुलेगा। date और time डालने के बाद Done पर पर क्लिक कर दें। 
विस्तृत जानकारी के लिए जरूर पढे: 
Schedule क्या है और कैसे set करे 

3. Permalink 

Permalink post seo के लिए बहुत ही अहम है। इसमें हम post के URL को छोटा करते है । जरूरी नहीं की आप पोस्ट में permalink customize  करे। जब आप पोस्ट लिखते है तो ब्लॉगर खुद permalink generate करता है, आप चाहे तो इससे भी काम चला सकते है। 
लेकिन आप भविष्य में अपने post का बेहतर ranking चाहते है तो permalink को जरूर customize करे। एक बात ध्यान देने योग्य है, Permalink को post publish करने से पहले customize किया जाता है। एकबार publish होने के बाद आप इसमें कुछ नहीं कर सकते। 
permalink setting
विस्तृत जानकारी के लिए जरूर पढे, Permalink की setting कैसे करे। 

  Location: 

आप चाहे तो अपने ब्लॉग के साथ अपना location डाल सकते है। जब कोई reader आपके blog में जाएगा तो उसको पोस्ट के साथ location Map दिखाई देगा। 

आमतौर पर किसी ब्लॉगिंग साइट के लिए इसकी जरूरत नहीं पड़ती। इसको मुख्य रूप से product सेल करने वाले साइट use करते हैं। इसलिए इसको default ही रहने दे। इसमें किसी भी प्रकार की customize करने की जरूरत नहीं। अगर ज्यादा जानकारी चाहते है तो इस पोस्ट को पढे :
Location setting क्या है  

5. Search Description: 

Description post SEO का अहम हिस्सा है। Description को post के लिये enable करने के लिये Blog के Setting में जाकर पहले ब्लॉग description लिखना होता है। बहरहाल Blog में description की विशेष जानकारी के पढे: Blog Description क्या है  

बहरहाल अगर आपने ब्लॉग का description सेट कर लिया है तो अब आपको post description लिखने की जरूरत है। ये भी बिलकुल blog description जैसा ही है। 
search description setting
Search Description पर क्लिक करें, एक box खुलेगा। इसमें अपने पोस्ट के बारे में ज्यादा से ज्यादा 150-160 अक्षरों में अपने पोस्ट के बारे में जानकारी दे। 

Post description वही चीज है जो आप किसी चीज को खोजने के दौरान गूगल search result में site link के नीचे दिखाई देता है। चुकि search result में काफी सारे site का नाम स्क्रीन पर दिखाई देता है। सर्च करने वाला व्यक्ति इसी description को पढ़कर किसी लिंक पर क्लिक करता है। इसकी विस्तृत जानकारी के लिये पढे :

Blogger में Search Description क्या होता है   

6. Options  

ये blogger में post setting का अंतिम पड़ाव है। इसमें कुछ करने की जरूरत नहीं है। इसकी default setting के साथ कुछ भी करने की जरूरत नहीं है। ये जैसा है वैसा रहने दें। 

blogger option setting

Conclusion:  

जैसे किसी चीज को बनाने के बाद उसको finishing किया जाता है वैसे ही पोस्ट लिखने के बाद उसका SEO किया जाता है। Blogger के ये 6 post setting On-Page SEO का अहम हिस्सा है। अगर आप चाहते है post ranking में आपका post अच्छा result दे तो थोड़ी सी मेहनत करके इस काम को जरूर पूरा करे। 

आशा है ये post आपको पसंद आया होगा और आपको  इससे फायदा होगा। अपना एक comment जरूर लिखें तथा अपने दोस्तों को share करे ताकि दूसरे लोग भी इससे लाभ ले सके। 




No comments:

Post a Comment