HindiBhashi: हिन्दी में SEO और Digital Marketing की पूरी जानकारी

Blogging, SEO, Digital Marketing aur Social Media se related sampurn jankari hindi me jise sikhkar aap Online Work from home se Paise kamaa sakte hai

Krishna

Wednesday, April 15, 2020

blogger me post comment sharing setting kaise kare

Blogger में Post, Comment, Sharing Setting कैसे करे ? Step by Step Guide. 

blogger पोस्ट comment sharing setting

जैसा की हम सब जानते है कि जब भी हम कोई बड़ी चीज खरीदते है तो उसे अपने हिसाब से कुछ modification करते है। इसके कई कारण हो सकते है। पहला तो ये होता है कि उस वस्तु को हम अपने सुविधानुसार ढलते है, दूसरी कोशिश होती है कि look wise दूसरों को अच्छा लगे। 

कुछ यही बात एक blog या website के साथ भी लागू होता है। एक नया blog बनाना ज्यादा कठिन नहीं है, कठिन काम है उसका modification. लेकिन ये इतना भी कठिन नहीं है कि न किया जाय। उन्हीं कामों मे से एक काम होता है अपने blog का setting करना। 

एक ब्लॉग का setting उतना ही जरूरी है जितना हमाए किए भोजन। हम भोजन नहीं करेंगे तो ज्यादा दिन जिंदा नहीं रह पाएंगे, उसी तरह अगर हम ब्लॉग कि setting नहीं करेंगे तो क्या होगा? आप जो ब्लॉग बनाएँगे और उसपर पोस्ट लिखेंगे, उसको केवल आप ही पढ़ पाएंगे। अगर आप चाहते है कि आप जो ब्लॉग बना रहे है वो ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पाहुचे तो जरूरी हो हो जाता है हरेक setting को सही से कर ले।  

Blog का setting भी On-Page SEO का ही एक हिस्सा है। यहाँ हम चर्चा 
करेंगे ब्लॉगर में post,comments, sharing setting कि। मुझे आशा है इससे पहले कि आप इस पोस्ट को पढ़ें आपने Blogger पर Free Blog  कैसे बनाए पढ़ कर समझ लिया होगा, साथ ही blogger पर Basic Setting  को भी समझ लिए होगा। अगर नहीं समझे है तो पहले इसको समझ लें। कोई जल्दवाजी  न दिखाये। एक-एक चीज को सही से समझें।

तो चलिये समझते है post, comment sharing कैसे करे: 

Blogger में post, comments, sharing setting करने के लिए सबसे पहले blogger में login करे आपके स्क्रीन पर कुछ इस तरह का dashboard खुलेगा : 




पहले setting पर click करे फिर उसके नीचे post, comments and sharing पर click करें। आपके सामने screen पर कुछ इस तरह का page खुलेगा : 


Post, Comments, Sharing Setting 

post comments sharing setting
 अब यहाँ हम नंबर से एक-एक बिन्दुओं पर चर्चा करेंगे: 

1. Show at most:  यहाँ by default 7 posts दिखता है। इसका मतलब है आपके home page पर 7 post दिखाई देंगे। इस संख्या को आप अपने 
सुविधा अनुसार कम ज्यादा कर सकते है। ध्यान रहे संख्या ज्यादा रहेगा तो page का load बढ़ेगा परिणाम स्वरूप खुलने में समय लेगा। google ने blogger को आपके लिए बहुत स्मार्ट बना रखा है, जहां जरूरत न हो परिवर्तन न करें। 

इसमें एक option और है, पोस्ट को click करके days में परिवर्तन कर सकते है। ऐसा करने से latest पोस्ट निर्धारित दिनों तक होम page पर दिखाई देगा। ऐसी परिस्थिति में आप अपने ब्लॉग पर 500 से ज्यादा पोस्ट नहीं लिख सकते। सलाह है by default जो है, रहने दें। 

2. Post Template:  ऐसा कोई massage जो आप चाहते है कि आपके हरेक पोस्ट  में ऊपर दिखाई      दे तो ये हर बार लिखने   की जरूरत नहीं 
है। ऐसा करने के लिए Add पर क्लिक करे, एक box खुलेगा, जो लिखना चाहते है लिख दें, अन्यथा छोड़ दें । 

3. Showcase images with lightbox: ये by default No है, इसको कुछ न करें। अगर इसको yes करेंगे  पोस्ट पे ऊपर पहले image खुलना शुरू  
हो जाएगा जो readers के लिए उबाऊ हो जाता है। ज्यादा जानकारी के लिए Showcase image with lightbox क्या है, जरूर पढे। 

4. Comment Location : Readers के लिए comment box कहाँ रखना चाहते है। इसके चार option है :

1. Embedded: ये by default है, इसमें comment box post के ठीक नीचे रहता है। सभी blogger इसी को पसंद करते    है, आपने बहुत सारे post पढे होंगे, हर post में आपको comment box नीचे ही मिला  होगा । 

2. Full Page: Embedded पर क्लिक करने पर option full page का दिखाई देता  है,    इस option को select करने पर comment box एक new page में खुलता है। 

3. Popup Window: इसमें comment box popup के रूप में खुलता 

4. Hide: इसको select करने पर comment box छुप जाता    है, readers के लिए comments करने का option नहीं रहता।     बड़े - बड़े news चैनल के blog site पर आपको comment box नहीं मिलेगा  अक्सर बहुत    से नए blogger अपने blog का link दूसरे बड़े blog के comment box में डाल देते  है      ताकि traffic वहाँ से  वहाँ    से divert होकर उसके ब्लॉग       तक पहुचे। इससे    बचने के लिए बड़े ब्लॉग site      इसको छुपाते है  

5. Who can comment: आप post पर comment करने का अधिकार किस- किस को देना चाहते है, by default any one select रहता है। इसको ऐसा ही छोड़। comment किसी post का जान होता है। Any one के अलावे दो और ऑप्शन होते है user with google account aur only member of this blog. ये दोनों option     सही      नहीं है  

6. Comment moderation:  इसके तहत आपको किसी के comment करने  पर आपके पास एक notification आता है, आप इसको देखकर चाहे तो delete कर  सकते है या publish कर सकते है  । कई बार readers     कुछ गलत  भाषा का प्रयोग कर देते है  या अपना लिंक डाल देता है, जिससे हरेक blogger बचना चाहता है। इसके तीन option होते है :

1. Always:  By default ये select होता है। इससे हरेक कमेंट के बाद  आपके पास notification आयेगा। 

2. Sometimes:  इसको select करने पर हमेशा नहीं लेकिन, जब कभी blogger को लगता है कि comment में कुछ गलत है तो आपके पास moderation  के लिए आता है।    

3. Never:  इसको select करने पर जब कभी कोई comment करेगा वही से reader publish कर देगा। 

7. Sow word verification: इसको  on रहने पर जब कोई reader comment करता है तो publish करने से पहले उसको verify करना पड़ता है कि वो कोई इंसान ही है, शुरू में   तो no रहने दे लेकिन जब लगे कि comment में  spamming  हो रहे   है फिर इसको yes कर दे।  कई  बार computer generated comment आते है वो बंद हो जाएंगे।  

8. Comment from massage: अगर आप चाहते है कि comment box में आप कोई massage अपने तरफ से जोड़े जो comment  करने वाले को दिखाई दे तो आप  इस option  से कर सकते है। जैसे किसी ने आपका पोस्ट पढ़ा  और उसको अच्छा नहीं लगा, इस परिस्थिति  में  हो  सकता है कि comment में कुछ गलत  शब्दों का इस्तेमाल करने को सोचे,   मान      लें आपने पहले से massage जोड़ रखा है " कृपया comment में  गलत भाषा का प्रयोग न   करें।" ये massage पढ़ने के बाद ज्यादा chance है कि  उसका जाय। 

आशा है ये पोस्ट आपको अच्छा लगा होगा। अगर आपको कहीं कुछ समझ में दिक्कत आ रही है आप comment में लिख सकते है। अगर आपको लगता है कि ये post new blogger के लिए useful है तो एक comment जरूर करें और अपने दोस्तों को share करे ताकि दूसरे भी इससे लाभ उठा सके। 

No comments:

Post a Comment