HindiBhashi: हिन्दी में SEO और Digital Marketing की पूरी जानकारी

Blogging, SEO, Digital Marketing aur Social Media se related sampurn jankari hindi me jise sikhkar aap Online Work from home se Paise kamaa sakte hai

Krishna

Sunday, May 17, 2020

new bloggers initial mistakes

12 Mistakes जो हर Blogger पहले साल में करता है 

गलती करना मानव का स्वभाव है। इसमें कुछ गलत भी नहीं है, क्योंकि जो व्यक्ति कुछ सही करेगा वही गलती भी करेगा। "हारते वही हैं जो मैदान में जीतने के लिए उतरते हैं।"  हाँ ये अलग बात है  मैदान में उतरने से पहले जीतने के लिए कितनी तैयारी करते हैं।

new blogger common mistakes


वैसे तो हरेक काम को शुरू करने के शुरुआती समय में कुछ न कुछ गलतियाँ होती हैं, लेकिन ब्लॉगिंग में उसका प्रतिशत ज्यादा है। यहीं कारण है कि bloggers का पहला साल तो गलतियाँ करने फिर उसको ठीक करने में निकल जाता है। 

नये bloggers जितनी भी गलतियाँ करते हैं उसको मैं मुख्यरूप से दो भागों में बांटता हूँ। पहले भाग में तो वो गलतियाँ हैं जो मुख्यरूप से इंडियन bloggers करते हैं, उसमें भी ज़्यादातर हिन्दी bloggers. इसके बारे में मैंने अपने पिछले post नये bloggers की 5 गलतियाँ में विस्तार से चर्चा की है। आगे बढ़ने से पहले अच्छा होगा इस पोस्ट को पढ़ लें । 

इन पाँच गलतियों के अलावा भी ऐसी बहुत सी गलतियाँ हैं जो अक्सर नए ब्लॉगर करते है। इनमें किसी भी भाषा के, किसी भी प्रांत और किसी भी देश के bloggers हो सकते हैं। इनके गलती करने का मुख्य वजह होता है blog शुरू करने से पहले किसी प्रकार का research न करना, blogging को हल्के में ले लेना। 

सबकुछ जानते हुये भी थोड़ा लीक से हटकर आगे बढ़ने की कोशिश करना।परिणाम होता है ज़्यादातर blogger हारकर blogging छोड़ देते है। इन्हीं में से कुछ ऐसे भी होते हैं जो मैदान में डटे रहते हैं, भले ही उन्हें इन गलतियों को ठीक करते- करते पहला साल निकल जाता है। यही कारण है कि bloggers के लिए पहला साल बहुत कठिन माना गया है। 

जो व्यक्ति पहला साल इन गलतियों से सीखते हुए निकाल देते हैं निश्चित रूप से वही व्यक्ति आगे चलकर वास्तव में ब्लॉगर कहलाते हैं। हाँ एक बात जरूर है कि ब्लॉगिंग शुरू करने से पहले इन गलतियों के बारीकी को समझ लिया जाए तो कुछ महत्वपूर्ण समय बचाया जा सकता है। तो चलिये जानते है क्या है वो common mistakes जो new bloggers पहले साल में करते हैं।    


#Mistake 1. जल्द से जल्द सफल होना (हरबड़ाहट)

हरबड़ाहट, ये एक नए ब्लॉगर का ऐसा mistake है जो कई दूसरे mistakes को जन्म देता है। मानव शरीर में जैसे एक मोटापा कई बीमारी को जन्म देता है वही हाल इसका है। 

common mistakes by new blogger

आखिर ये जलद्वाजी क्यों? बहुत से new bloggers ये जानने के बाद भी कि ब्लॉगिंग में सफलता पाने के लिए किन-किन पहलुओं पर काम करना जरूरी है, वो इन सबको ignore करते चले जाते हैं इस सोच के साथ कि शायद वो इसके बिना सफल हो जाएंगे या शायद वो जो कर रहे है वही सही है। जबतक उन्हें समझ आता है या तो बहुत देर हो चुकी होती है जिसके कारण वो race में आने से पहले बाहर हो जाते हैं या बहुत सारा वक्त बर्बाद कर चुके होते हैं। इस हरबड़ाहट में वो कौन - कौन सी गलतियाँ करते हैं जरा इसपर गौर करते है: 

#Mistake 2. कोई Research न करना 

कोई research नहीं, कोई प्लानिंग नहीं , कैसे आगे बढ़ना है कुछ नहीं पता। इसका प्रमुख कारण होता है new blogger के दिमाग में कुछ इस तरह की भी सोच होती  है कि जितनी देर रिसर्च करेंगे उतने में दो-चार पोस्ट लिख लेंगे। ये एक common mistake है। आज के तारीख में जीतने सफल ब्लॉगर आपको दिख रहे हैं, उनमें से बहुत से इस गलती को कर चुके हैं। उनमें मैं भी एक हूँ। ये अलग बात है कि वो वक्त रहते संभल गए। 

एक सफल blogger बनने के लिए हमें कई तरह के research की आवश्यकता होती है। जैसे: 

#Keyword Research:      

Blogging में ये एक ऐसा महत्वपूर्ण काम है जिसकी जरूरत हमें शुरू से अंत तक पड़ती है। हम जो कोई पोस्ट लिख रहे हैं वो आखिर readers तक पहुचेगा कैसे? 

किसी भी blog या website पर readers कई source से आते हैं जैसे किसी का reference, social media, google search इत्यादि। इसमें सबसे ज्यादा महत्व Google search का होता है। आपने एक अच्छा सा post लिख दिया लेकिन उसका keyword क्या है, जिसके सहारे वो पोस्ट search engine में rank करेगा। 

इसके लिए जरूरी होता है कि जो post आप लिख रहे हैं, उसका सही से keyword research करें। बिना अच्छे keyword के post rank नहीं करेगा, बिना ranking के readers नहीं मिलेगा, फिर सब मेहनत बेकार है। 

#अपने Competitors के बारे में रिसर्च न करना 

जब भी blogging के शुरुआत के बारे में सोचें। पूरी तैयारी के साथ शुरू करें। ये सोचकर कभी शुरुआत न करें कि अभी तो नया हूँ, अभी जैसे-तैसे चलने देते हैं, बाद में देखेंगे। बाद का कोई चक्कर न रखें। दोबारा समय खराब करने से अच्छा है अभी थोड़ा वक्त देकर trained blogger कि तरह हर एक बिन्दु पर काम करें। 

Research की कड़ी में एक काम और होता है अपने competitor को पहचानना और उसपे निगाह रखना। 

इसके लिए जरूरी है कि आप जिस topic पर लिखना चाहते हैं या लिख रहे हैं उससे related पाँच-सात blog को target कर लें। अब ये देखें की वो किस-किस keywords पर लिख रहा है, उसके audience कहाँ से आ रहे है, उसके लिखने की शैली कैसी है इत्यादि। फिर उसको follow करते हुए उसे beat करने की कोशिश करे। 

#Mistake 3. न Audience का पता होता है न ही Niche का 

जब भी कोई post लिखा जाता है तो इसके पीछे दो आधार होते हैं। पहला audience को target करके, यानि आप जो post लिख रहे हैं उसको पढ़ेगा कौन, आपके readers कौन होंगे? दूसरा आपकी पकड़ जिस topic  (niche) पर है।   

अगर audience को target करके पोस्ट लिखा जाता है तो फिर इस बात का पूरा-पूरा ध्यान रखा जाता है कि आप जो कुछ लिख रहे है क्या वो readers की demand को पूरा करता है? अगर ऐसा है तभी कोई reader दोबारा आपके post को पढ़ने आयेगा अन्यथा दूर से ही निकल जाएगा। 

इसके लिए जरूरी है कि पोस्ट लिखने के बाद आप खुद post को एकबार पढे, फिर reader की जगह पर खुद को रखें, देखें की कोई व्यक्ति जिस मकसद के लिए इस पोस्ट को पढ़ रहा है क्या उस मकसद को पूरा कर रहा है। 

दूसरा कारण होता है आपकी पकड़ किस topic (niche) पर अच्छी है जिस पर आप आसानी से लिख सकें। सही तरीका यही है कि आप उसी विषय पर लिखें जिसकी समझ आपको अच्छे से हो, readers खुद व खुद मिल जाते हैं। 

new blogger common mistakes
इस मामले में नये bloggers में कुछ ज्यादा ही भटकाव होता है। प्रतिदिन वो एक नए topic पर लिखते हैं। परिणाम ये होता है कि अगर वो अच्छा लिख भी रहे है तो readers confuse हो जाते हैं। 

इस मामले में ज़्यादातर नए bloggers इस सोच को पाले रहते है की वो तो बहुत सारे विषयों के जानकार हैं जिसपर वो लिख सकते हैं। 

हो सकता है ऐसा संभव हो, लेकिन ये तरीका गलत है। शुरू- शुरू में एक विषय को लेकर चलना ही उचित होता है। अन्यथा readers तो confuse होते ही हैं साथ ही Googlebot भी ऐसे blog को जल्दी page ranking में नहीं लेता। 

इसके लिए अच्छा है कि आप blogging में single niche vs multiple niche के concepts को समझें तथा इससे होने वाले फायदे और नुकसान को भी जाने। 

#Mistake 4. Free Blog बनाना 

अपने यहाँ बहुत से लोग शुरुआत free blog जैसे Blogspot या wordpress.com से करते है। इस मामले में हरेक लोगों की राय अलग-अलग है। जो इसके समर्थक हैं उनका मानना है कि अगर content अच्छा होगा तो free blog से भी सफलता मिल सकती है, लेकिन ऐसा मानने वालों कि संख्या आज के समय में बहुत कम है। 

इसको आप एक उदाहरण से समझ सकते है। मान लीजिये आपको एक दुकान करनी है। आप दुकान पैसे देकर किराये पर लेते है या खरीदते हैं, आप उसे अपने हिसाब से सजाते हैं ताकि दुकान पर ज्यादा से ज्यादा ग्राहक आ सके। 

वहीं दूसरी ओर आपको कोई free में दुकान उपलब्ध करवाता है। चुकी ये free है इसलिए कई तरह के restrictions के साथ देता है जहां आप अपने हिसाब से दुकान को सजा नहीं सकते। आप खुद अनुमान लगा लें सफल होने के ज्यादा आसार कहाँ हैं। 

Free blog में कई तरह के restrictions होते हैं, जैसे:

  • Company कभी भी आपके site को बंद कर सकती है, आप कुछ नहीं कर सकते क्योंकि ये आपकी property नहीं है। 
  • Free site पर adsense approval में काफी परेसानी होती है जिसके कारण साइट जल्दी monetize नहीं हो पाती। 
  • Free blog पर space और bandwidth की  लिमिट कम होने के कारण भविष्य में कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता हैं। 
  • Free blog पर features बहुत कम होते हैं जिसके कारण competition में टिकना मुश्किल होता है। 
  • अगर आपका ब्लॉग free है और domain blogspot या wordpress.com पर खत्म होता है तो readers ऐसे ब्लॉग पर आना पसंद नहीं करते।  

Free Blog blogging सिखने के लिए अथवा अगर आप शौकिया तौर पर ब्लॉगिंग करना चाहते है तो ठीक है, लेकिन अगर प्रॉफेश्नल ब्लॉगिंग करना चाहते है तो बिलकुल नहीं। इसलिए अगर आपका blog भी फ्री है तो जितना जल्द हो सके एक अच्छा सा domain name और hosting प्लान ले लें। 

अगर blogging में सफल होना चाहते है तो इसे business कि तरह लें और कुछ पैसे खर्च करे। 

अगर शुरुआत में hosting का budget नहीं है तो दो-चार सौ खर्च कर कम से कम अपना domain name ले लें और blogger पर custom domain add करें ताकि readers को कम से कम न लगे कि free ब्लॉग है। 

#Mistake 5. Consistency का अभाव 

शुरुआत में ज़्यादातर blogger में एक जोश होता है। उसी जोश में वो किसी दिन चार post लिख डालते हैं, किसी दिन पाँच, फिर हफ्ते भर के लिए बैठ जाते है। जब याद आता है तो फिर से लिखना शुरू करते हैं। 

आपको शायद पता न हो ये तरीका बिलकुल गलत हैं। आप खुद सोचकर देखें।  किसी दिन तो आप पाँच पोस्ट पब्लिश कर देते हैं, फिर दश दिन कुछ नहीं, ऐसे में कौन reader आपसे जुड़कर रहेगा। उसपर भी अगर आपके readers social मीडिया से आते हैं। एक तय वक्त पर उनको आपके पोस्ट का इंतजार रहता हैं। 

इसके लिए जरूरी है कि आप एक routine तय करे। जरूरी नहीं कि प्रत्येक दिन चार पोस्ट लिखे। ये भी जरूरी नहीं कि प्रत्येक दिन post लिखे ही लिखें। भले ही हफ्ते में एक पोस्ट लिखें, लेकिन एक schedule में लिखें। 

बहुत जरूरी है कि आप पोस्ट पब्लिश करने का अपना दिन निश्चित करें और उसी क्रम को जारी रखे। अगर आपका ब्लॉग Blogger Blogspot पर है तो आपको ये schedule खुद तैयार करना होगा। 

अगर WordPress use कर रहे हैं तो यहाँ आपको Editorial Calendar कि सुविधा मिलती है जिसको use करना काफी फायदेमंद हैं। इसके अलावा 
बड़ी - बड़ी company Trello का इस्तेमाल इस काम के लिए करती हैं। 


#Mistake 6. Quality नहीं Quantity पर जोड़ देना 

बहुत मेहनत है ब्लॉग को स्थापित करने में। इस सोच के साथ बहुत से नए blogger धराधर ज्यादा से ज्यादा post लिखकर पब्लिश करने के चक्कर में लग जाते हैं, जिसका परिणाम होता है वो post की quality पर ध्यान नहीं देते। 

इस मामले में Google Algorithm बहुत smart है। Googlebot जब किसी post को search करता है तो वो quantity नहीं post के quality को देखता है। दूसरी तरफ readers को अच्छा content चाहिए न की quantity। अच्छा content मिलेगा तभी वो दोबारा आपके ब्लॉग पर आएगा। 

ब्लॉगिंग में खूब मेहनत का मतलब होता है क्वालिटी और traffic लाने पर मेहनत करना, न की खूब post लिखने पर। पाँच घटिया पोस्ट लिखने से अच्छा है एक अच्छा पोस्ट लिखना। 

जैसे-तैसे लिखना बंद करे। post structure को समझे और SEO Friendly blog पोस्ट लिखे, जिससे ranking में भी फायदा होगा और readers भी लंबे समय तक के लिए जुड़े रहेंगे। 

अगर किसी complicated topic पर पोस्ट लिख रहे है तो अच्छा होगा data उपलब्ध करवाएं। कुछ sites हैं जहां से आप data collect कर सकते हैं। 

#Mistake 7. SEO पर ध्यान न देना 

किसी भी ब्लॉग का SEO उसका backbone है। सबकुछ संभव है लेकिन इसके बिना ब्लॉग को स्थायी रूप से सफल बनाना असंभव है। इसलिए ब्लॉग शुरू करने से पहले ही SEO क्या है, इस बात को समझना बहुत ही  जरूरी है। 

New blogger common mistakes

अगर आपको लंबे समय तक ब्लॉगिंग में टीके रहना है तो इसको ignore नहीं कर सकते। इसके एक-एक बिन्दुओं को समझना जरूरी है। 

जबतक आप SEO के मूल सिधान्त को नहीं समझेंगे आप SEO कैसे करेंगे। SEO का full form है Search Engine Optimization. Search Engine Google का प्रोग्राम है। हम जो कुछ ढूँढने के लिए Google पर लिखते है उसका result search engine के माध्यम से हम तक पहुंचता है। 

Optimization हम करते है। optimization का अर्थ होता है अनुकूल बनाना। जब भी हम कोई पोस्ट लिखते है तो उसको search engine के अनुकूल बनाते है ताकि हमारा पोस्ट search रिज़ल्ट में आ सके

ये काम पोस्ट लिखने के साथ शुरू हो जाता है जिसे On-Page SEO कहते हैं।  इसके  अलावा भी बहुत से काम होते हैं जो हमें SEO के लिए करना पड़ता है। 

#Mistake 8. Social Media से दूर रहना 

अपने देश में जितने लोंगों के पास आधार कार्ड नहीं है उससे कई गुना ज्यादा social media account है। लोग भले ही active न हो लेकिन अपना account जरूर बना लेते है। इनमें हर तरह के लोग होते है। 

एक नए ब्लॉगर के लिए social media बहुत सहायक होता है। आप blog पर कितनी ही मेहनत कर लें organic search यानि Google के search में पाँच-छह महीने से पहले नहीं आनेवाला। इसलिए social media पर पूरी तरह active होने की जरूरत होती है। 

new blogger common mistakes

जितनी जरूरत है constantly पोस्ट लिखने की उतनी ही जरूरत है constantly social media पर प्रचार करने की। इसके लिए आपको एक strategy के तहत काम करने की जरूरत होती है। 

वैसे तो आजकल ढेर सारे social media है जिसपर लोग एक्टिव हैं, हरेक पर audience की संख्या और variety में अंतर है। अब ये पता करना आपका काम है कि आप जिस विषय पर लिख रहे हैं उससे संबन्धित audience कहाँ ज्यादा मिलेंगे। 

मेरे हिसाब से कुछ ऐसे famous social media है जहां हर तरह के लोग पाये जाते है और अगर मेहनत करेंगे तो सफलता भी निश्चित मिलेगी। 

#Facebook: 

अपने यहाँ  या  शायद पूरे विश्व में सबसे ज्यादा लोग Facebook पर active हैं। दुनियाँ में शायद ही ऐसा कोई ब्लॉगर या कंपनी होगी जो इसका इस्तेमाल न करती हो। आप जितना अच्छा इस्तेमाल इसका करेंगे उतना ही readers अपने site पर ला सकते हैं। 

Facebook Group बनाकर लोगों को उससे जोड़े। आप जीतने भी पोस्ट publish करते हैं सबको इस ग्रुप पर share करे। बीच-बीच में अपने ब्लॉग से related topic group पर share करते रहें। कहने का तात्पर्य है जितना ज्यादा हो सके group members के साथ interact होने कि कोशिश करे। 

Facebook पर अन्य group को join करें। कुछ अपना विचार रखे, कुछ लोगों के विचार पर प्रतिक्रिया दें। 

इसके अलावा Instagram, Pinterest, Twitter Linkdin Quora जैसे कई social media हैं जहां से traffic लाये जाते हैं। 

इनमें Quora मुझे बहुत पसंद है। ये एक ऐसी जगह हैं जहां आप लोगों के question के answer दे भी सकते हैं और अपना कोई question कर भी सकते हैं। 

जब आप बहुत सारे social media use करते हैं तो सबको एकसाथ manage करना कठिन काम हो जाता है, इसके लिए Buffer एक अच्छा विकल्प है जो हमारे काम को आसान करता है। 

#Mistake 9 Email List को शुरू से ignore करना  

आपके ब्लॉग पर आनेवाले readers एक तरह से ग्राहक के समान हैं। उनको कैसे जोड़कर कर रखना है इसको समझना बहुत ही जरूरी है। 

new bloggers common mistakes

Email marketing को social media से कई गुना ज्यादा effective माना गया है। ये एक ऐसा channel है जिसके माध्यम से reader बार-बार आपके ब्लॉग पर आते हैं। 

वैसे Email मार्केटिंग के कई माध्यम है जैसे readers को कुछ free उपलब्ध कराना जैसे कोई, digital book, online course, लेकिन सबसे effective हैं newsletters. ये आसान भी है। 

इसको समझने के लिए अच्छा तरीका ये है कि आप अपने टॉपिक से मिलते-जुलते कुछ newsletters को subscribe करे। उसको पढ़कर जाने, क्या लिख रहे हैं, कैसे लिख रहे हैं। उनसे ये भी जाने कि कैसे subscribers को newsletters भेजते हैं और अपने readers का बेहतर इस्तेमाल कैसे होता है।  


#Mistake 10 Copyright Violation करना  

शुरूआत में ज़्यादातर blogger short cut के जुगाड़ में रहते हैं या कह सकते है कि free कि जुगारवाजी से काम चलाना चाहते हैं। वैसे इस तरह के काम हर जगह के blogger करना चाहते हैं लेकिन अपने देश में इसकी संख्या ज्यादा है। 

यही कारण है कि अपने देश में एक गाड़ी भी चलती है जिसका नाम जुगार पर गया क्योंकि ये पूरी की पूरी जुगाड़ से बना होती है। 

new blogger common mistakes

वैसे तो blogger बहुत तरह के जुगाड़ में रहते हैं लेकिन post लिखने में दो तरह के जुगाड़ का काफी प्रचलन है। वैसे एक बात बता दूँ , कुछ जुगाड़ लोग अनजाने में करते है तो कुछ जानबूझ कर।  

Content copy करना : 

ये काम दूसरे देशों में शायद ही होता होगा, लेकिन अपने देश में जरूर होता है। ये काम वो लोग करते हैं जिनको ब्लॉगिंग से कोई लेना-देना नहीं है, बस लोगों से सुनकर जल्दी पैसा कमाने के चक्कर में रहते हैं। 

हजार -पंद्रह सौ शब्दों का पोस्ट लिखना फिर उसका page ranking पाने के लिए जो मेहनत करनी पड़ती है वो इतनी आसान नहीं है। लेकिन कुछ नए blogger जो शायद अपने-आप को ज्यादा स्मार्ट समझते है, वो सोचते हैं इतनी मेहनत करने से अच्छा किसी पोस्ट को कॉपी करके अपने ब्लॉग पर paste कर दो। 

उनको ये नहीं पता इसमें दो तरह के खतरे हैं, क्योकि ये पूरी की पूरी चोरी है। पहला खतरा तो ये है कि जिसका content चोरी होता है पकड़े जाने पर उसके पास अधिकार होता है कि वो कानूनी कारवाई करे। 

दूसरा खतरा ये रहता है कि Google का algorithm इस मामले में बहुत स्मार्ट है। वो ऐसे content कि चोरी पकड़ लेता है और पूरे ब्लॉग को page ranking से बाहर कर देता है। 

Copyright Image का इस्तेमाल करना  

ये गलती अक्सर new blogger अनजाने में करते हैं। जब कभी post लिखते वक्त image कि आवश्यकता पड़ती है google में search करके image को copy कर अपने पोस्ट में paste कर देते हैं। 


new blogger common mistakes


आपको शायद पता न हो ये बहुत बड़ी गलती है। Internet पर जीतने भी images उपलब्ध है सबका copyright होता है। इस गलती के लिए अच्छा -खासा हर्जाना आपको court में भरना पड़ सकता है। 

बहुत सारे blogger सोचते है कि image owner का link दे देने से और उसको credit दे देने से कॉपीराइट violating खतम हो जाएगा तो ये गलत है। हाँ ये बात अलग है कि image owner अगर permission दे देता है फिर कोई दिक्कत नहीं है। 

लेकिन ये भी संभव नहीं है क्योंकि कितने image के लिए permission लेंगे। फिर उपाय क्या है? 

एक उपाय तो ये है कि खुद का फोटो खिचकर इस्तेमाल करे, लेकिन इसके लिए एक अच्छा सा camera खरीदना पड़ेगा या एक अच्छे से camera वाला mobile phone। Blogging के शुरुआत में ये दोनों संभव नहीं है। 

Copyright free images का इस्तेमाल करना 

कुछ ऐसे sites उपलब्ध हैं जो copyright free या common creatives images उपलब्ध करवाते है जिसको आप किसी permission के बिना इस्तेमाल कर सकते हैं। इनमें प्रमुख हैं : 

⇨ Unsplash 

⇨ Pixabay 

⇨ Burst 

⇨ Pexels 

⇨ StockSnap.io 

ऊपर बताए गए sites से image download कर उसको अपने हिसाब से editing करके बेहिचक इस्तेमाल करे। 

कुछ ऐसे tools उपलब्ध हैं जिसको इस्तेमाल कर आप खुद इमेज तैयार कर सकते हैं :

⇨ Canva 

⇨ Photoshop 

⇨ Pablo from Buffer 

#Mistake 11. Traffic Exchange करना  

Traffic Exchange नये bloggers बड़े धरल्ले से करते है। निश्चित रूप से वो इसके बारे में सही से research करने की जरूरत भी नहीं समझते ।  ताज्जुब की बात है की इसमें थोड़े -बहुत पुराने bloggers भी शामिल होते हैं। 

Traffic exchange दो तरह से होता है

पहला : कई  सारी websites हैं जो इस तरह की सेवा देती है। इसके लिए आपको इसके website पर अपने Email ID  के साथ enroll करना पड़ता है। इसके बाद ये आपको बहुत सारे sites का लिंक provide करती है। आप जितने लिंक पर visit करेंगे उतने ही visits ये आपके sites पर करेगी। 

अब मान लीजिये आपने 100 sites पर visit किया बदले में 100 visits आपके sites पर आया। आप बहुत खुश हो गए । 

ज्यादा खुश न हों। जरा गणित लगाएँ। कितना फायदा कितना नुकसान है। फायदा कम नुकसान ज्यादा है। कैसे जरा इसको समझें। 

आपने अपना बहुमूल्य समय देकर सौ sites visits किया। लेकिन क्या आपके visits के बदले में जो visits मिल रहा है क्या नैचुरल है। बिल्कुल नहीं। ये company इसके लिए software और App का इस्तेमाल करती है जिसको robot भी कहते है। 

इनका एक visit मुश्किल से 10 से 15 seconds का होता है। एक तो ये कोई comment नहीं करते अगर करते हैं तो spam होता है क्योंकि ये कोई reader तो होते नहीं जो पोस्ट के हिसाब से comment करेंगे, ये वो comment करते हैं जो प्रोग्राम किया हुआ होता है। 

अगर आपके site पर adsense है तो ये robots बेधरक कई clicks इस पर कर देते है जिसके लिए आपको CPC के हिसाब से पैसे मिलते हैं। चुकी ये spam हिट होते है जिसको Google बड़े आसानी से पकड़ लेता है। परिणाम होता है Google आपके site को adsense से बाहर कर देता है। 

सोचे आपके site पर दस -दस seconds का 100 visits मिला। वही आपके मेहनत के कारण दस natural visits मिला जो average पाँच मिनट आपके site पर समय देता है। ध्यान रखें अगर पोस्ट अच्छा है तो पढ़ने में कम से कम इतना समय लगता है। अब हिसाब लगाकर देखें, natural visits से जो credits आपने पाया था वो robot के कारण गवा दिया क्योंकि इसने आपके site का bounce rate बढ़ गया।  

ध्यान रखे natural visit से जो visitor आपके site पर एकबार आते हैं, उनके दोबारा आने के भी chance होते हैं। अगर आपका पोस्ट अच्छा है। 

दूसरा : ये खेल facebook group पर खूब चलता हैं। फर्क इतना होता है     कि यहाँ कोई robots नहीं होता बल्कि नये- नये bloggers होते है जिनको  सफलता पाने कि जल्दवाजी होती है। ये जितनी जल्दी सफल होने कि सोचते हैं उतनी ही जल्दी ब्लॉगिंग से बाहर हो जाते हैं। 

ये लोग भी पोस्ट पढ़ते नहीं बल्कि ज्यादा से ज्यादा पोस्ट पर क्लिक करने कि होड़ लगाते है परिणाम bounce rate का क्या होगा खुद अनुमान लगा लें। 

अगर एक सफल professional blogger बनना है तो इन गलतियों से बचें। ईमानदारी पूर्वक मेहनत करते रहें। धैर्य रखें एक दिन traffic चलकर खुद आपके site पर आएगा। 

#Mistake 12. Backlink Exchange करना  

Backlink किसी भी website या blog का backbone है। SEO में सबसे अहम रोल इसी का हैं। यही कारण है कि new blogger और कुछ जाने -अनजाने पुराने ब्लॉगर भी जिनको इसका disadvantage पता नहीं है शुरू से ही link exchange के फेर में पड़ जाते हैं। 

अगर कोई बढ़िया website जिसका DA अच्छा है आपके site के quality और credit के आधार पर link provide करता है तो अच्छी बात है। लेकिन link exchange, जिस दिन Google Algorithm पकड़ लेगा आपके site को listing से बाहर कर देगा। एक दिन ऐसा आता जरूर है। 

यहाँ भी आपकी मेहनत ही काम आती है। अच्छा लिखें, DA improve करें, Backlink भी improve हो जाएंगे। 

Conclusion 

वैसे तो new blogger बहुत सारे mistakes करते हैं, लेकिन मैंने केवल कुछ खास बिन्दुओं पर चर्चा की है। अगर आप एक सफल ब्लॉगर बनना चाहते हैं तो new bloggers initial mistakes को समझना जरूरी है। 

जबतक आप समझेंगे नहीं इस गलती को करने से रुकेंगे नहीं। 

एक बात समझ लें ब्लॉगिंग में short cut का कोई स्थान नहीं हैं। ये hard work मांगता है। 

इस काम में quick result के बारे में सोचना मतलब अपना समय खराब करना। 

अगर आप हिन्दी में blogging कर रहे हैं तो दो साल और English में blogging कर रहे हैं तो एक साल तक monetization के बारे में सोचें भी मत। इसके लिए अच्छा होगा अच्छे -अच्छे इंग्लिश blogger को खूब पढ़ें। 

शुरू से ही अगर adsense के बारे में सोच रहे हैं, क्या फायदा? पहले traffic तो लाएँ, बिना traffic के adsense से क्या पा लेंगे। 

मैं किसी तरह आपको हतोत्साहित नहीं करना चाहता। सही रास्ता दिखाना अपना कर्तव्य समझता हूँ।  समझना न समझना आपके ऊपर है। 

आशा करता हूँ आपको ये पोस्ट पसंद आया होगा और आपके लिए मार्गदर्शक का काम करेगा । नीचे के social media बटन से share जरूर करें ताकि दूसरे भी लाभ उठा सके। 

मन में कोई संदेह है या कुछ पुछना चाहते हैं एक comment जरूर करे।  

16 comments:

  1. AP ke tips bahoot kamal ke hai sir...

    ReplyDelete
  2. bariya hay. Here is mine https://bomsomguys.blogspot.com/2020/05/liquid-diets-for-weight-loss.html

    ReplyDelete
  3. Methane achha karte ho wordpress per kyu fhift nahi ho jate

    ReplyDelete
    Replies
    1. schedule se chal rahaa hun. 3-4 mahine baad Wordpress par shift karunga.

      Delete
  4. धन्यवाद सर, हम काफी लंबे समय तक आपकी लिखी पोस्ट को पढ़ते रहे और अंत में कई महत्वपूर्ण जानकारी भी मिली जिसके लिए मैं आपका आभारी हूं।

    ReplyDelete
    Replies
    1. एक लेखक के लिए readers ka comment पारितोषिक होता है। आपने अपना महत्वपूर्ण समय दिया, इसके लिए धन्यवाद।

      Delete
  5. blogger se earning ki ja sakti kya

    ReplyDelete
    Replies
    1. अक्सर readers subdomain वाले ब्लॉग पर जाना पसंद नहीं करते। आमदनी तो तभी होगी जब ब्लॉग पर ट्रेफिक होगी। custom domain add कर कुछ हद तक ये संभव हैं।

      Delete
  6. आपका बहुत बहुत धन्यवाद सर, आपकी लेखन शैली अच्छी लगी सर।

    ReplyDelete
    Replies
    1. बहुमूल्य कमेंट के लिए धन्यवाद ।

      Delete
  7. Awesome ... by commenting three times bigger than the size of this post and it will not be possible to express the quality of this post. I am really surprised by the quality of your constant posts.
    You really are a genius, I feel blessed to be a regular reader of such a blog Thank you so much💋💕💋

    ReplyDelete