HindiBhashi: हिन्दी में SEO और Digital Marketing की पूरी जानकारी

Blogging, SEO, Digital Marketing aur Social Media se related sampurn jankari hindi me jise sikhkar aap Online Work from home se Paise kamaa sakte hai

Krishna

Tuesday, July 14, 2020

how to write meta descriptions for seo in hindi

Meta Descriptions कैसे लिखें? SEO में Meta Descriptions का क्या महत्व है? Meta Descriptions की length कितनी होनी चाहिए?

Meta Descriptions क्या है? इसे कैसे लिखते है? Meta Descriptions क्यों महत्वपूर्ण है? क्या Meta Descriptions Search Engine Optimization में helpful है? Meta Descriptions के कुछ bad और good examples. 


How to write meta descriptions that boost your ranking?

Meta Descriptions कैसे लिखें की CTR (Click Through Rate में Improvement हो?

Importance of meta descriptions in seo

अगर सही मायने में देखा जाय तो SEO एक trick के समान है। हम अपने ब्लॉग को सर्च इंजिन में rank करवाने के लिए न जाने कितने तरह के seo करते है, और न जाने कौन - कौन से हथकंडे अपनाते है? 

लेकिन कमी फिर भी रह जाती है। एक कहावत है "तू डाल-डाल, तो मैं पात-पात"। 

हम जितनी तेजी में seo करते है, Google उतनी ही तेजी में अपने algorithm में बदलाव करता है। अगर आकडे देखें तो हर साल goolge algorithm में 500 से 600 बार बदलाव होते है। 

परिणाम होता है सौ कदम चलने के बाद भी हम वहीं खड़े रह जाते हैं। 

एक कहावत आपने सुनी होगी " सौ घर मांगने से उतना ही मिलता है जितना दस घर मांगने से मिलता है"। 

महत्वपूर्ण सवाल ये है कि आप मांगते किस घर से है?

कुछ यही हाल SEO का है। जहाँ algorithm में बदलाव के कारण सारे seo fail हो वही कुछ ऐसे भी seo है जिनके ऊपर इस बदलाव का असर नहीं पड़ता। उनमें से एक है Meta Descriptions

इससे पहले की हम जाने meta descriptions क्या है, एक नजर में ये जानते हैं कि Meta tags क्या है?

Meta Tags क्या है  (What are meta tags)

Meta tags दरअसल html elements है जो किसी वैबसाइट के बारे में search इंजन को जानकारी देता है। यह किसी भी website के head section में होता है। 

अगर किसी page का meta tag देखना हो तो बड़े ही आराम से देखा जा सकता है। 

इसके लिए mouse का right button click करें, एक popup menu खुलेगा। view source पर क्लिक करे। html page खुल जाएगा। इसके head section में जाकर meta tags देखा जा सकता है। 

यहाँ html elements के रूप में मुख्य रूप से दो तरह के tags होते है:

  • Title Tag 
  • Meta Description 

Meta tags कितना महत्वपूर्ण है और google की इस बारे में क्या राय है इसको इस पोस्ट से समझ सकते है Special tags that Google understands. 


किसी भी पोस्ट में title tag भी महत्वपूर्ण है। इसकी चर्चा हम किसी और पोस्ट में करेंगे। यहाँ हम चर्चा करेंगे Meta Description के बारे में। 

Meta Description क्या है (What is Meta Description)


Meta Description एक तरह से किसी भी पोस्ट की summary है जो सर्च रिज़ल्ट में दिखाई देती है। ये on-page seo का अहम पार्ट है। 

जब भी हम इंटरनेट पर कुछ सर्च करते है तो ये url के नीचे दिखता है। 

What is meta description

ऊपर blue colour में जो दिख रहा है वो Meta title है और उसके नीचे लाल घेरे में जो description दिख रहा है वो meta description है। 

Meta Description का महत्व (Power of Meta Description)


कई बार लोग प्रश्न करते है "मेरा ब्लॉग सर्च result (Page ranking) में तो आता है, लेकिन visitors मेरे साइट पर नहीं आते। 

अगर Google search console की भाषा में कहें तो impression तो दिखता है लेकिन क्लिक नहीं होता।

importance of meta description
यहाँ ऊपर के image में साफ दिख रहा है total impression 305 लेकिन click केवल चार। 

Impression वह संख्या है जो ब्लॉग पोस्ट जितनी बार search result में दिखाई दिया है। 

Total Click वह संख्या है जितनी  बार कोई visitor search result में क्लिक करके ब्लॉग के किसी page पर गया है। 

CTR (Click through rate) यह वह प्रतिशत है जिसमें हम देखते 
की सौ impression में कितने क्लिक बने हैं। इससे हमें अपने वैबसाइट के performance का पता चलता है। 

ऊपर के रिपोर्ट से पता चलता है कि performance बहुत ही खराब है। 

यहाँ आपकी जानकारी के लिए बता दूँ कि average CTR 5% के आसपास होनी चाहिए। 

ऐसा क्यों होता है ?

दरअसल जब कोई visitor internet पर सर्च करने के लिए कुछ लिखता है तो ढेर सारे रिज़ल्ट आते है। अब हरेक पोस्ट को तो वो पढ़ेगा नहीं। फिर कैसे idea मिलेगा किस पोस्ट को पढ़ा जाए? 

Meta Description को पढ़कर। जी हाँ, सही कहा मैंने। 

आपने अंदर पोस्ट में कितना ही अच्छा content डाला हो किसको क्या पता? अगर meta description अच्छा नहीं है सब बेकार। 

आप जितने भी seo करते है सब के सब serch engine को ध्यान में रखकर करते है। लेकिन meta description readers को ध्यान में रखकर लिखा जाता है। 

ऊपर मैंने बताया था algorithm में changes के कारण जब सारे seo fail हो जाते है तो ये meta description अकेला seo है जिसके ऊपर algorithm में changes का प्रभाव नहीं पड़ता। वो कहावत आपने सुनी होगी "सौ सुनार की एक  लोहार की"। 

इसलिए ये जरूरी हो  जाता है कि जितना ध्यान पोस्ट लिखने पर देने कि जरूरत है उतना ही ध्यान meta description लिखने पर देने कि जरूरत है। 

Meta description जितना attractive रहेगा visitors उतने ही ज्यादा site पर आएंगे, वरना ब्लॉग को goolge में rank करने का कोई महत्व नहीं रह जाएगा। 

क्या meta description ranking में help करता है?


जी  नहीं। Google September 2009  में स्पष्ट घोषणा कर चुका है कि meta description का कोई भी रोल rank factor में नहीं है। हाँ इसका असर CTR (click - through- rate) पर पूरा पड़ता है जिसके कारण ranking पर असर पड़ सकता है। किसी पोस्ट का meta description कितना effective है इसका निर्णय करने के लिए Google ने visitors को विवेक पर छोड़ दिया है। User feedack से Google के विचार को समझा जा सकता है। 

Meta Description कैसे लिखें (How to write meta description)?


हम अपने  ब्लॉग या website के लिए दो तरह का descrription लिखते है। पहला जब हम कोई नया ब्लॉग बनाते है तो setiing के preferences में जाकर और दूसरा हरेक पोस्ट के लिए। 

how to write meta description

जैसा कि ऊपर लाल घेरे में देख रहे है ये ब्लॉग के लिए लिखा गया description है। इसमें हम search engine को बताते है कि हमारा ब्लॉग किस विषय से संबन्धित है। ये एक तरह से गागर में सागर के समान है। 

यहाँ एक बात ध्यान देनेवाली है कि जरूरी नहीं कि हम जो description लिखें वहीं search engine result में दिखाये। 

अगर हम description नहीं लिखते है या हमारे द्वारा लिखा गया description google को पसंद नहीं आता है तो randomly गूगल को पोस्ट मे से जो sentence पसंद आता है उसे उठाकर description में दिखा देता है। 

कई बार आपने गौर किया होगा जब भी आप कुछ सर्च करते है तो किसी-किसी title के साथ जो description दिखाई देता है वो समझ में नहीं आता। 
क्या कारण है? इसका मुख्य कारण है गूगल description show करने के लिए आधी लाइन एक जगह से उठाता है तो आधी किसी और जगह से । 

इससे बचने का एक ही तरीका है कि description इतना सुंदर लिखा होना चाहिए कि ऐसी नौबत न आये, जिससे CTR पर bad effect पड़े। 

अब बात करते है हरेक पोस्ट के लिए meta description कैसे लिखें?

Keywords: हम हरेक पोस्ट को लिखने से पहले keyword research करते है । जहाँ - तहाँ समझ में आता है इस्तेमाल भी करते है। 

बात जब आती है Meta description लिखने कि तो keyword का इस्तेमाल करना भूल जाते है। 

वास्तव में ये एक बहुत ही दोयम दर्जे की mistake है। 

एक अच्छे description में keyword का इस्तेमाल कैसे किया जाता है इसको नीचे के इमेज से समझ सकते है: 

meta description में keyword का इस्तेमाल कैसे करे

अगर ब्लॉग WordPress पर है तो keyword का इस्तेमाल कहाँ और कैसे करना है ये काम Yoast SEO Plugin बड़े ही आराम से कर देता है। 

ब्लॉग अगर ब्लॉगर पर है तो फिर खुद करना पड़ता है। 

Be unique and legible: Description औरों से हटके और स्पष्ट होनी चाहिए। लिखावट ऐसी होनी चाहिए की ये पोस्ट की summary तो बताए हीं साथ में readers को पता चलना चाहिए की आप क्या कहना चाहते है। शब्दों का चयन सोच-समझकर करना बहुत ही जरूरी है। keyword का      इस्तेमाल बार-बार नहीं होना चाहिए। इससे description boaring हो जाएगा और फायदे की जगह नुकसान उठाना पड़ेगा। 

Treat description as advert of blog: जैसे हम किसी प्रॉडक्ट का banner देखते है और नजर टिक जाती है। Description कुछ ऐसा ही होना चाहिए। presentation ऐसा हो की  visitor site पर आने को मजबूर हो जाएं। 

Length: ये एक महत्वपूर्ण प्रश्न है कि meta description कि lenght कितनी होनी चाहिए। यानि इसमें कितने शब्द या अक्षर होने चाहिए। 

समय के साथ इसमें कुछ न कुछ परिवर्तन होता रहता है। वैसे हरेक search engine के लिए इसकी लिमिट अलग है। अगर गूगल की बात करें तो maximum alphabet की लिमिट 155- 160 के बीच है। 

Description लिखते समय मुख्य अंश को 120 alphabet के अंदर रखे ताकि किसी भी कारणवश search result में दिखते समय इसके कटने का चान्स न रहे। 

जब हम description लिखते हैं तो alphabet के साथ pixel का भी महत्व है। Description कितने pixel का होना चाहिए इसको भी देखना जरूरी है। 

इसको चेक करने के लिए की लिमिट cross तो नहीं कर रहा meta description length checker tool का इस्तेमाल कर सकते है। 

Use rich snippets: Description ज्यादा आकर्षक और प्रभावी बनाने के लिए हम star rating, consumer rating जैसे snippets का इस्तेमाल कर सकते है। 

Don't repeat: कई लोग एक topic पर अनेक पोस्ट लिखते है और उसके 
लिए एक ही description का बार - बार इस्तेमाल करते है। Google algorithm duplicasy को बिलकुल बरदास्त नहीं करती। इसलिए ऐसी आदत को जल्द ठीक कर लें।


meta description कैसे लिखें



Double Quotation Marks का उपयोग न करें। 


Meta Description में double quotation mark का उपयोग कभी न करे। अगर आप जाने- अनजाने करते है तो जब कभी आपका पोस्ट search ranking में आता है तो search engine description में से वो हिस्सा छाँटकर दिखाता है। 

जिससे बचने का एक ही तरीका है कि जितने भी non alphaabatic sign है उसको हटा दें। 

अगर meta description में quotation mark बहुत ही जरूरी हो तो HTML entity का उपयोग कर काट-छांट से बच सकते है।  

कुछ अच्छे meta description के उदाहरण 


यहाँ meta description के कुछ example दिये गए है जो ऊपर के criteria को पूरा करता है: 

How to start Digital Marketing 

जैसा की हम नीचे के image में देख रहे है, इसमें digital marketing शुरू करने के लिए क्या-क्या करने और क्या-क्या सीखने की जरूरत है सबकुछ बताया गया है। 


meta description कैसे लिखें


What is Yoga 




How to write meta description 

जैसा की हम नीचे के image में देख रहे है ये एक ही गागर में सागर के समान है। यहाँ description में हर वो चीज समेटा गया है जो जानना जरूरी है। 


meta descrription कैसे लिखें



कुछ समान्य meta description के उदाहरण 

'Best burger in London'

नीचे किए description में कहाँ अच्छा बर्गर मिलेगा, ये न बताकर बर्गर और उसके इतिहास के बारे में बताया गया है जो की query से बिल्कुल है। 
meta description कैसे लिखें

'meta description'

Description में कुछ गडबर है जो गूगल को crawl करने से रोक रहा है। केवल keyword समझ में आ रहा है। 


meta description कैसे लिखें


'captain amerika civil war review'

नीचे review के नाम पर कुछ भी नहीं है ।  


meta description कैसे लिखे


ये भी जानें :

Googlebot क्या है 

Domain Authority क्या है 

Anchor Text क्या है 


Conclusion 

इतना सब लिखने - पढ़ने के बाद की meta description क्या है, इसके फायदे क्या है, और meta description कैसे लिखें, इतना तो समझ आ गया होगा की गूगल algorithm में भले की कितना भी बदलाव हो जाय, इसपर कोई फर्क नहीं पड़ने वाला। 

भले ही meta description का page ranking में कोई रोल न हो, लेकिन search engine अच्छे meta description को value देता है। 

Meta description एक अकेला SEO है जिसे हम visitors को ध्यान में रखकर करते है। 

जैसे - जैसे हम meta description पर ध्यान देते है, इसका impact हमें CTR पर देखने को मिलता है। 

इसलिए जरूरी है कि जितना focus हम post लिखने पर करते है, उतना ही फोकस हमें meta description लिखने पर करना चाहिए। 

आशा करता हूँ ये पोस्ट आपको पसंद आया होगा। कोई भी प्रश्न हो तो comment करें। 

नीचे के social button से share करें ताकि दूसरे भी लाभ उठा सकें। 

No comments:

Post a Comment